उपलब्ध सुविधाएं

  • सूचना एवं सुविधा केंद्र

    दिल्ली छावनी परिषद् ने जान सेवाओं के लिए एक इलेक्ट्रॉनिक प्रणाली शरू की है जिसके लिए दिल्ली छावनी परिषद् के कार्यालय में सूचना तथा सुविधा केंद्र स्थापित किया गया हैं | इस केंद्र को स्थापित करने का उदेस्य बहुत ही शीघ्रता, दक्षता, दृढता तथा विश्वनीयता के साथ जनता की शिकायतों का निवारण करना है | इस केंद्र में जनता की शिकायतों, कर्मचारियों की सुविधा, डाक, राजस्व तथा कर, केशियर तथा जनम व मृत्यु के पंजीकरण के समाधान की व्यवस्था की गई हैं |

  • शिक्षण सुविधाएं

    01 पब्लिक स्कूल, 06 सीनियर सेकेंडरी स्कूल तथा शारीरिक रूप से अशक्त बच्चो के लिए स्कूल सहित छावनी परिषद् द्वारा 08 स्कूलों का सञ्चालन किया जाता है | छावनी की सिविल आबादी की शिक्षा संबंधी आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए यह स्कूल छावनी क्षेत्र में स्थित हैं | छावनी परिषद् का प्रयास बेहतर शिक्षा प्रदान करना तथा अच्छा शैक्षणिक वातावरण सृजित करना है | अधिक जानकारी के लिए अपेक्षित स्कूल की वेबसाइट पर जाएँ |

  • ई-शासन

    छावनी के नागरिकों को अधिकार प्रदान करने, ई-शासन को बढ़ावा देने, इलेक्ट्रॉनिक सूचना प्रौद्योगिकी उद्योग को शामिल करने व उसे बढ़ावा देने, इन्टरनेट प्रशाशन में चवनि की भूमिका में वृद्धि करने, इस प्रकार का बहुदृघ्कालीन दृष्टि कोण अपनाने जिसमें मानव संशाधन विकास शामिल हो, के लिए अनुसंधान एवं विकास तथा इनोवेशन को बढ़ावा देने, डिजिटल सेवाओं के माध्यम से दक्षता में वृद्धि करने तथा साइबर स्पेस को सुरक्षित सुनिश्चित करने के लिए ई-शासन शुरू किया गया हैं |

    दिल्ली छावनी परिषद् द्वारा समाधान एप का सृजन डिजिटल इंडिया परियोजना के अन्तर्गत ई-शासन की पहल के रूप में किया गया है ताकि सफाई व्यवस्था को मजबूत और सशक्त किया जा सके तथा छावनी के सभी निवासी अपनी कॉलोनी / क्षेत्र की सफाई के बारे में दें सके तथा उसका मूल्यांकण कर सके | यह एप स्वच्छता के प्रति दिल्ली छावनी परिषद् के दायत्व को पूरा करेगी |

  • जन - स्वास्थ्य सेवा

    छावनी जनरल अस्पताल वर्त्तमान में १०० बिस्तरों की यूनिट (विस्तराधीन) हैं जिसमें प्रयोगशाला, एक्स-रे तथा प्रसूतिसेवाओं सहित सामान्य चिकित्सा तथा प्राथमिक देखभाल सेवायों के व्यवस्था की गयी है | इसमें एक पूर्णकालिक दंत चिकित्सा क्लीनिक तथा हड्डी रोग, बाल चिकित्सा, नाक/कान गला, अनेस्थेटिक, सर्जरी, प्रसूति तथा स्त्रीरोग, त्वचा रोग, नेत्र रोग तथा चिकित्सा के विशेषज्ञों की व्यवस्था है | इसके अपने परिषर में दिल्ली सरकार का एक स्वास्थ्य केंद्र हैं जो जन्म पूर्व देखभाल तथा प्रतिरक्षण सेवायों सहित मातृत्व एवं शिशु स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध करता है | इसमें दिल्ली सरकार का एक डॉट केंद्र भी है जिसमें तपेदिक के इलाज की व्यवस्था की गयी है | यहाँ होमियोपैथी में अनुशंधान के लिए केंद्रीय परिषद् द्वारा दैनिक आधार पर एक होमियोपैथी क्लिनिक भी चलाया जाता है | पल्स पोलियो कार्यक्रम, स्कूल स्वास्थ्य तथा तपेदिक नियंत्रण सहित सभी राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रम चलाते है |.

    अस्पताल का समय :

    • ओपीडी – 08.30 A.M to 11.30 A.M (सोमवार से शुक्रवार) & (शनिवार – 08.30 A.M to 11.00 A.M)
    • लेबोरेटरी – 08.00 A.M to 08.00 P.M (सोमवार से शनिवार)
    • एक्स-रे – 09.00 A.M to 04.00 A.M (सोमवार से शुक्रवार) & (शनिवार – 09.00 A.M to 01.00 A.M)
    • अल्ट्रासाउंड – 02.00 P.M to 05.00 P.M (सोम, मंगल, बुध, शुक्र & शनि)
    • आपातकालीन – 24X7
    • एम्बुलेंस सेवा के लिए (डायल करें टोल फ्री नम्बर पर) – 1800 11 5300 (24X7)
  • फ़ायर-ब्रिगेड

    आग बुझाने तथा आग लगने पर जीवन व सम्पति की रक्षा करने तथा भवन के ध्वस्त होने, सड़क यातायात दुर्घटना तथा कुएं इत्यादि से मानव व पशु को बहार निकालने जैसे कार्यों के लिए दिल्ली छावनी परिषद् द्वारा अग्निषमन की व्यवस्था की गयी है | अग्निषमन सेवायों का कार्य प्रभावी ढँक से आग से बचाओ करना, अग्नि सुरक्षा के सम्बन्ध में जागरूकता पैदा करना तथा विभिन्न प्रकार के आवासों के लिए इनबिल्ट अग्नि बचाओ व्यवस्था पर जोर देना है | यह सुविधा चौबीसों घंटे उपलब्ध है |

    संपर्क नंबर:
    011- 2569 2281

  • अतिथि गृह

    दिल्ली छावनी परिषद् के पास चित्रकूट अतिथि गृह है | यह अतिथि गृह स्टेशन मुख्यालय, दिल्ली क्षेत्र, दिल्ली छावनी के निकट है | यह अतिथि गृह मुख्यत: रक्षा सम्पदा संगठन, सेना, वायुसेना, नौसेना तथा छावनी परिषद् के निर्वाचित सदस्यों के राजकीय अतिथियों के लिए है |

    संपर्क नंबर:
    श्री अजय गुप्ता - 7042491417
    011- 2569 3837

  • पार्क

    मानव उपयोग तथा मनोरंजन तथा स्वस्थ्य व हरा-भरा वातावरण प्रदान करने, बच्चो के अमोद-प्रमोद के लिए दिल्ली छावनी परिषद् छावनी क्षेत्र में २० सार्वजनिक पार्को का रख-रखाव करती है | सभी व्यक्तियों को चुस्त दुरस्त रहने के लिए शारीरिक कसरत की आवश्यकता है | शारीरिक कसरत से ताकत, लचीलापन तथा सहनशक्ति में वृद्धि होती है | इससे डिप्रेशन और चिंता दूर होती है तथा मनो: स्थिति में शुधार होता है व मनुष्य मानसिक रूप से स्वस्थ्य रहता हैं | पार्कों, गार्डनों तथा प्राकृतिक क्षेत्रों में प्रकृति का मानषिक तथा सामाजिक स्वास्थय में शुधार कर सकता है | पार्क में भी स्थायी पडोसी बनाकर स्वस्थ समाज का निर्माण किया जा सकता है तथा सामाजिक विकास को सुदृढ़ किया जा सकता है | समाज भाव का निर्माण करने तथा जीवन की गुणवक्ता में शुधार के लिए पार्क सबसे तीर्व व प्रभावी माध्यमों में से एक है | यह लोगों को आपस में जोड़ने तथा साझा वातावरण में संवाद करने का बेहतर स्थान है | पार्क लोगों को किसी साझा लक्ष्य के लिए एक साथ काम करने हेतु सकरात्मक सामाजिक भागीदारी की ओर प्रेरित करते है | इससे बच्चों को प्राकृतिक के साथ रोज़ाना सीधे अनुभव का लाभ प्राप्त होता है जो उन्हें अन्वेक्षण, खोज तथा उनके संसार के बारे में जानने की ओर प्रेरित करता है तथा उन्हें स्वस्थ्य वृद्धि व शारीरिक क्रियाकलापो में लगाए रखता है | पार्क बच्चो को उनके स्थान तथा स्व-पहचान का बोध कराते है तथा सामाजिक विषमता, कलाविध्वंश व हिंसा के प्रतिकारक के रूप में जाने जाते हैं |

  • स्ट्रीट लाइट

    वर्त्तमान में छावनी परिषद् सिविल क्षेत्रों, सार्वजनिक स्थलों तथा गार्डनों में 3500 स्ट्रीट लाइटों का रख-रेखाओं करती है तथा दिल्ली छावनी क्षेत्र के महत्वपूर्ण जंक्शनणो पर भी १९५ हाई मास्ट लाइटें (16 मी., 12 मी., 20 मी.) लगाई गयी है | दिल्ली छावनी परिषद् कार्यालय में क्रमसः 60 किलोवॉट, 20 किलोवॉट की क्षमता के रूफ टॉप सोलर ग्रिड पावर सयंत्र लगाने के लिए एम/एस भारतीय शौर्य ऊर्जा निगम को नियुक्त किया गया है | इन परियोजनायों के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के पश्चात इसे छावनी परिषद् के अन्य भवनों पर स्थापित किया जाएगा | इसके अतिरिक्त परिषद् ने छावनी परिषद् कार्यालय, छावनी सार्वजनिक अस्पताल, स्कूलों तथा सामुदायिक भवनों इत्यादि पर लगी परंपरागत लाइटों के स्थान पर एल ई डी लाइट लगाने के प्रस्ताव को भी अनुमोदित किया है | परिषद् ने 3500 परंपरागत स्ट्रीट लाइटों के स्थान पर एल ई डी लाइटें प्रवर्तित करने के लिए एम/एस ईईएसएल लिमिटेड के साथ एक समझौता ज्ञापन को भी अनुमादित किया गया है |

  • जलापूर्ति

    बोर्ड गांव नारायणा के लिए दिल्ली जल बोर्ड से थोक में जल की आपूर्ति प्राप्त करता है | परंतु जल का वितरण बोर्ड की अपनी आधारभूत प्रणाली तथा ओवरहेड टैंक व भूमिगत पंप के द्वारा किया जाता है | अन्य क्षेत्रों में बोर्ड द्वारा जल की आपूर्ति अपने नलकूप तथा आधारभूत प्रणाली द्वारा की जाती है | बोर्ड के पास पिने का पानी के लिए वर्त्तमान में 50 गहरे नलकूप, 07 ओवरहेड टैंक, 09 भूमिगत जलाषय तथा 59 पंप हाउस हैं |

    चार पम्पिंग स्टेशनों का रख-रखाव विभाग द्वारा स्वंय किया जाता है तथा शेष ऑउटसोर्सड पर दिए गए है | बोर्ड की कुल जलापूर्ति 12.5 लाख गैलन प्रतिदिन है तथा बोर्ड द्वारा 160 लीटर प्रति व्यक्ति प्रतिदिन की जलापूर्ति की जाती है | वर्ष 2015 में बोर्ड ने 10 नए ट्यूबवेल लगाए थे जिसके परिणाम स्वरुप प्रति व्यक्ति प्रतिदिन की जलापूर्ति 125 लीटर से बढ़कर 160 लीटर हो गयी है | प्रत्येक पंप हाउस पर इलेक्ट्रो मैकेनिकल क्लोरीनेटर्स लगाए गए हैं | कठोर पानी को उपचारित करने के लिए बोर्ड ने सदर बाजार में तीन जल मृदुकरण संयंत्र स्थापित किये जाने की व्यवस्था की हैं |

  • सड़क

    छावनी परिषद् २० किलोमीटर लंबी सड़को का रख-रखाव करता है जिनका जनता द्वारा बहुतायात इस्तेमाल किया जाता है | जनकपुरी को धौला कुआँ से जोड़ने वाली सड़क का नाम स्टेशन रोड, रिंग रोड को एयरपोर्ट टर्मिनल से १ से जोड़ने वाली सड़क का नाम मोड रोड, पश्चिमी दिल्ली को द्वारका तथा एयरपोर्ट टर्मिनल से १ से जोड़ने वाली सड़क का नाम सदर बाजार रोड है | परिषद् द्वारा अनुरक्षित यह कुछ ऐसी सड़कें है जो बहुत ही व्यस्त हैं तथा इन पर यातायात का अधिक दबाव रहता है | परिषद् इन सड़कों के रख-रखाव पर एक भरी राशि खर्च करती है | परिषद् ने सभी सार्वजनिक सड़कों के साथ-साथ बस-क्यू-शेल्टर, रोड साइनेज तथा हरित पटियों की व्यवस्था की है | सभी सार्वजनिक सड़कों के साथ पैदल चलने के फुटपाथ बनाए गए है जिनका नियमित रूप से रख-रखाव किया जाता है |